التخطي إلى المحتوى الرئيسي

المشاركات

عرض المشاركات من يناير, 2020

हिंदी कहानी - ट्रक वाले की कहानी

        Moral stories in hindi for kids                             1. ट्रक वाले की कहानी किसी गांव में एक ट्रक वाला रहता था। वह  बहुत लालची था।  एक बार उसे एक व्यक्ति ने कॉन्ट्रैक्ट के लिए बुलाया उस आदमी ने कहा कि कि मेरी जमीन के नीचे पानी है तुम अपने बोरवेल ट्रक से इस जमीन को खोदकर पानी निकालो।              Moral stories in hindi for kids  इस पर ट्रक के मालिक ने कहा कि तुम घर के अंदर जाओ जैसे ही पानी आएगा मैं तुम्हें बता दूंगा।  ट्रक के मालिक ने 10 फीट खुद कर उसमें 3 बाल्टी पानी भर दिया और घर के मालिक को बुलाया और कहा कि आपके यहां 10 फीट में पानी निकल आया है । वह आदमी खुश हो गया। ट्रक वाला बोला "तो निकालिए  ₹5000" घर के मालिक ने उसे पैसे दे दिए। घर के मालिक ने वहां पर मोटर लगा दी लेकिन 2 दिन तक पानी नहीं आया । तब उसने ट्रक के मालिक को फोन किया और कहा - "कुएं में से पानी नहीं आ रहा है ।"  इस पर ट्रक के मालिक ने कहा - " लगता है तुम्हारे जमीन का पानी खत्म हो गया है अब मुझे और नीचे खोजना पड़ेगा इसलिए तुम्हें मुझ

Akbar Birbal ki kahaniya- part 1

          Akbar Birbal ki kahaniya               अकबर बीरबल की कहानियां                 1. प्रकृति पर किसका राज? Akbar Birbal ki kahaniya                 अकबर के राजदरबार में बीरबल सबसे चतुर थे । उनसे सारे दरबारी ईर्ष्या करते थे । इसलिए सभी दरबारी हमेशा उनके लिए नई नई समस्याओं को रखते थे । लेकिन बीरबल क्षण भर में ही उत्तर दे देते थे । ऐसे ही एक बार किसी दरबारी ने बादशाह अकबर के सामने सवाल किया कि शहंशाह हमारे राज्य में कुल कितने कोए होंगे?  बादशाह अकबर यह बात भी जानते थे कि यह प्रश्न उनके लिए नहीं बल्कि बीरबल की परीक्षा के लिए पूछा गया है । बादशाह अकबर ने तुरंत यह प्रश्न दरबार के सामने रखा और उत्तर मांगा। सभी ने बीरबल के चेहरे की ओर देखा । बीरबल तुरंत बोल पड़े -" जहांपनाह ! हमारे पूरे राज्य में कुल 95,474 कोए है ।" "क्या तुम अपने उत्तर के बारे में निश्चित हो ? " अकबर ने पूछा। बीरबल बोले -" जी जहांपनाह ! " अकबर ने फिर पूछा -" अगर कम हुए तो ? " बीरबल ने पुनः उत्तर दिया -" इसका अर्थ होगा कि

Swami Vivekanand Story in Hindi स्वामी विवेकानन्द की कहानियां

  Swami Vivekanand Stories in Hindi स्वामी विवेकानन्द जी की कहानियां देश - भक्ति यह प्रसंग स्वामी विवेकानन्द के बचपन का है। उन्हें बचपन में नरेंद्र कहकर बुलाते थे। एक बार वे कलकत्ता में एक आम बेचने वाले की दुकान पर खड़े थे । वहां पर उन्होंने देखा कि एक विदेशी आदमी ने 1 किलोग्राम आम खरीदकर जा रहा है। नरेंद्र ने ध्यान दिया कि दुकानदार ने उस विदेशी को कुछ खराब आम दे दिए थे। नरेंद्र ने फौरन 1 किलोग्राम आम खरीदे और उस विदेशी व्यक्ति की ओर दौड़े और उन्हें रोककर बोले, " दुकानदार ने आपको कुछ खराब आम दे दिए हैं, आप वो खराब आम मुझे दे दीजिए और बदले में अच्छे आम ले लीजिए।" विदेशी आदमी एक छोटे से बच्चे की इस बात से बहुत प्रभावित हुआ और उसने पूछा , " तुम अपने आम मुझे क्यों दे रहे हो और मुझसे खराब आम क्यों ले रहे हो?" नरेंद्र ने मुस्कुराते हुए उत्तर दिया , " इसका एक ही कारण है कि मैं अपने देश का अपमान नहीं चाहता। " विदेशी व्यक्ति जब कुछ समझ नहीं पाए तो नरेंद्र ने बताया कि अगर आप ये आम रख लेते और खराब आमों से आपको निराशा होती , फिर आप जब अपने देश वापस जाते तो अपने देश

Moral stories in hindi for kids(जादुई टब)

    " Moral  stories in hindi for  kids "                 1. जादुई टब एक बार की बात है , किसी गांव में एक किसान रहा करता था वह रोज खेतों में काम करने जाया करता था । एक बार अपने खेत में काम कर रहा था कि तभी उसे खुदाई के समय एक टब मिला जो कि लोहे का बना हुआ था , उसने सोचा कि शायद यह टब बहुत पुराने समय से जमीन के अंदर गढ़ा हुआ होगा।  Moral stories for kids उसने उसको बाहर निकाला और घर जाते समय उसमें 4 सेब रखे जब वह घर पहुंचा और उसने टब में से सेब निकले तो वह 4 से  चार सौ हो गए थे , किसान समझ गया कि यह कोई साधारण टब नहीं बल्कि एक जादुई टब है । उसे पाकर वह किसान बहुत खुश हो गया और उसने धीरे धीरे उस टब की मदद से बहुत पैसे कमा लिए और वह गांव का सबसे संपन्न किसान बन गया ।  टब की बात किसी से भी छुपी नहीं रही ।  इसलिए जब गांव के जमीदार को टब के बारे में पता चला कि टब में डाली गई हर चीज 100 गुना बढ़ जाती है!  तो उसने किसान से टब छीन लिया और उसने भी  धन की प्राप्ति करने के लिए टब का इस्तेमाल किया और वो भी बहुत कम समय में बहुत धनी हो गया। टब की बात ज