التخطي إلى المحتوى الرئيسي

المشاركات

عرض المشاركات من يوليو, ٢٠٢٠

दो दोस्तों की तीर्थ यात्रा hindi Moral story

Moral Story In Hindi  दो दोस्तों की तीर्थ यात्रा दो दोस्त तीर्थ यात्रा पर मक्का जा रहे थे। शहरवासी होने के नाते, वे किसी भी मैनुअल(गाइड) कठिनाई के आदी नहीं थे। लेकिन चूंकि वे एक लंबी यात्रा के लिए बाहर थे; उन्हें अपने स्वयं के कंबल, कपड़े, भोजन और बर्तन ले जाने पड़े। इस तरह के सामान का बोझ उठाना उनके लिए बहुत अप्रिय था   दो दोस्तों की तीर्थ यात्रा एक दिन, जब वे एक सड़क के किनारे आराम कर रहे थे, तो उनकी मुलाकात एक युवक से हुई जो एक तीर्थ यात्रा पर मक्का भी जा रहा था। दोनों दोस्तों ने सोचा कि युवक से दोस्ती कर ली जाए। क्योंकि वह अच्छे स्वभाव के साथ-साथ शारीरिक रूप से मजबूत भी था। Tag- शिक्षाप्रद हिंदी छोटी कहानियां शॉर्ट स्टोरी फॉर किड्स इस  दौरान, उन्होंने युवक को कई तरह के शब्द बोले और प्रस्ताव दिया कि तीनों को एक साथ यात्रा करनी चाहिए। वह युवक, जो अशिक्षित था,वह सहर्ष दोनों मित्रों के प्रस्ताव पर सहमत हो गया। यह तय किया गया था कि वे यात्रा के दिनों के लिए अपने खाद्य पदार्थों का एक सामान्य स्टॉक बना लें। नए साथी ने जल्द ही देखा कि दोनों दोस्तों के लिए अपना सामान ले

ये मेरा भारत है हिंदी कविता

ये मेरा भारत है हिंदी कविता दोस्तों भारत और विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र और विश्व का एक उभरता हुआ देश है। भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता विश्व की सबसे प्राचीन सभ्यताओं में से एक है।भारत देश के गौरवशाली अतीत की तुलना सोने की चिड़िया से की जाती है। हमारा देश हिमालय की पहाड़ियों से लेकर समुद्र तक फैला हुआ है और इसे भारत माता कहकर भी संबोधित किया जाता है। भारत माता जिसका मुकुट स्वयं हिमालय है और हिन्द महासागर जिसके चरणों को धोता है । भारत कई मामलों में विश्व में कई देशों से आगे है पर आज भी भारत में ऐसी कई समस्याएं व्याप्त है जिनका समाधान किया जाना अनिवार्य है। भारत की कुछ इन्हीं समस्याओं बताती हुई कविता हम आपके लिए लेकर आए हैं उम्मीद है आप को यह कविता पसंद आएगी। ये मेरा भारत है हिंदी कविता ये मेरा भारत है, ये मेरा भारत है, जहां टीवी पे रामायण , और सड़कों पर महाभारत है,  ये मेरा भारत है,  ये मेरा भारत है।  जहां नेता भ्रष्टाचारी।  अफसर घूसखोर है, जहां शिक्षा में सीखने से ज्यादा , रटने पर जोर है। जहां चापलूसी करने में, अफसरों को

अच्छाई का दुश्मन Moral Story In Hindi

अच्छाई का दुश्मन नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का कहानी स्टेशन पर और आज हम आपके लिए लेकर आए हैं एक बहुत ही अच्छी कहानी तो चलिए शुरू करते हैं - एक बार की बात है, एक किसान रहता था जिसके पास थोड़ी सी जमीन थी। उसका नाम किशोर  था और वह बहुत दयालु और नेकदिल इंसान था। Moral Stories In Hindi  वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ गांव में अपनी जमीन पर बनी एक झोपड़ी में रहता था और अपनी छोटी सी जमीन पर जो भी फसलें पैदा करता था उसे बेचकर कमाता था और इसी प्रकार से अपने परिवार का भरण पोषण करता था। किशोर को दूसरों की मदद करना अच्छा लगता था जब भी कोई बीमार होता था या उसे किसी  चीज की जरूरत पड़ती तो  उस व्यक्ति की मदद करने के लिए किशोर  वहां चला जाता था।  यदि गांव में किसी की मृत्यु हो जाती, तो किशोर मृत व्यक्ति के परिवार के सदस्यों की सहायता करता, जो भी वह कर सकता था।  अगर कोई रात में बीमार पड़ जाता था, तो किशोर  गाँव के डॉक्टर के पास दवाई तैयार करने और बीमार लोगों की मदद करने के लिए सदैव तैयार रहता था।  ऐसा प्रतीत होता था कि कोई भी इस व्यक्ति से घृणा नहीं करता है और